दिन के कारोबार के लिए एक परिचय

ट्रेडिंग के मौके का फायदा उठाना

ट्रेडिंग के मौके का फायदा उठाना
ऐसा इसलिए है, क्योंकि यदि व्यापारी अपने पूरे ट्रेडिंग खाते से कितना जोखिम उठा रहा है, इसके लिए विशिष्ट दिशानिर्देश निर्धारित नहीं करता है, तो व्यापारी को निश्चित रूप से एक बिंदु पर मिलेगा जहां वह निश्चित रूप से किसी विशेष व्यापार पर जोखिम उठाएगा। इसका कारण ट्रेडिंग के मौके का फायदा उठाना यह है कि एक व्यापारी मानव है और जैसे कि व्यापारिक दिन के दौरान भावुक होने का खतरा होता है।

ऋषभ पंत को अपने मौके का फायदा उठाने की जरूरत, आकाश चोपड़ा ने की विकेटकीपर की जमकर आलोचना

क्रिकेट न्यूज डेस्क।। आकाश चोपड़ा चाहते हैं कि ऋषभ पंत टीम इंडिया के लिए बल्ले से थोड़ा और सुसंगत रहें। उन्होंने बताया कि विकेटकीपर-बल्लेबाज इस समय उदात्त और गरीब के बीच झूल रहा है। पंत ने आज तक सीमित ओवरों के क्रिकेट में टीम इंडिया को धोखा देने की चापलूसी की है।

उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले T20I में आउट होने के लिए एक अजीब शॉट खेला, जब टीम इंडिया थोड़ी परेशानी में थी। अपने YouTube चैनल पर साझा किए गए एक वीडियो में, आकाश चोपड़ा ने विंडीज के खिलाफ दूसरे T20I में भारतीय बल्लेबाजों से अपनी उम्मीदों के बारे में बात की।

"मैं पंत के बारे में बात करूंगा क्योंकि कैसे और वाह क्रम चलता रहता है। जिस तरह से वह पिछले मैच में आउट हुए, मैं थोड़ा निराश था क्योंकि एक मौका था और अपने मौके का थोड़ा और उपयोग करने की आवश्यकता है।" "उन्होंने एक वनडे में रन बनाए, उन्होंने दक्षिण अफ्रीका में एक वनडे में ट्रेडिंग के मौके का फायदा उठाना भी ऐसा किया। लेकिन एक श्रृंखला में एक बार नहीं, आप नियमित रूप से अधिक चाहते हैं। हम सभी में वह लालच है, हम सभी अधिक रन चाहते हैं, इसलिए वह एक के साथ खेल सकते हैं।

MT4 के लिए ऑटो फाइबोनैचि संकेतक

MT4 के लिए ऑटो फाइबोनैचि संकेतक एक संकेतक है जो मेटा ट्रेडर 4 चार्टिंग और ट्रेडिंग प्लेटफ़ॉर्म पर बनाया गया है और उन सभी व्यापारियों के लिए भी है जो चार्टिंग और ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म का उपयोग व्यक्तिगत टाइमफ्रेम के अपने सभी चार्टिंग को करने के लिए करते हैं जो व्यापारी को बनाते हैं। पसंदीदा या चयनित ट्रेडिंग के मौके का फायदा उठाना मुद्रा जोड़े, जो अपने तकनीकी विश्लेषण करते हैं और जो ट्रेडिंग दिवस के दौरान ट्रेडिंग निर्णय लेने के लिए मंच का उपयोग करते हैं।

सूचक बहुत मजबूत है और इसकी भविष्यवाणी करने की क्षमता ट्रेडिंग के मौके का फायदा उठाना के कारण एक प्रमुख संकेतक है। MT4 के लिए ऑटो फाइबोनैचि संकेतक, फाइबोनैचि सिद्धांतों और ज़िगज़ैग संकेतक के आधार पर बनाया गया है और यह व्यापारी को बाजार में रुझानों के लिए संभावित उलट बिंदुओं की पहचान करने में मदद कर सकता है।

जिस खबर से Adani Group के शेयर में आई भारी गिरावट, कंपनी ने उसे नकारा, निवेशक मौके का फायदा उठाएं या क्या करें?

TV9 Bharatvarsh | Edited By: शशांक शेखर

Updated on: Jun 14, 2021 | 6:39 PM

Adani Group shares: अरबपति कारोबारी गौतम अडाणी के समूह ने सोमवार को कहा कि उसके पास इस बात की लिखित जानकारी है कि उसके शीर्ष शेयरधारकों में शामिल तीन विदेशी फंडों के खाते जब्त नहीं किए गए हैं और इस तरह की खबर ‘‘स्पष्ट रूप से गलत और भ्रामक’’ हैं. अडाणी समूह की कंपनियों में हिस्सेदारी रखने वाले कुछ FPI खातों को राष्ट्रीय प्रतिभूति डिपॉजिटरी लिमिटेड (NSDL) द्वारा कथित रूप से जब्त करने की खबर के बाद इन कंपनियों के शेयरों में सोमवार को गिरावट देखी गई.

निवेशकों के मन में बड़ा सवाल ये है कि आखिर उन्हें इस मौके का फायदा उठाना चाहिए या इंतजार करना चाहिए, क्योंकि लोअर सर्किट लगने के बाद शेयरों ने शानदार रिकवरी दिखाई और गिरावट के फासले को कम किया. ज्यादातर जानकारों ने रिटेल निवेशकों को फिलहाल इस शेयर से दूरी बनाने की सलाह दी है. जानकारी के लिए बता दें कि अडाणी ग्रुप के चार शेयरों में T2T (ट्रेड टु ट्रेड) लग गया है. इसका मतलब फिलहाल इन शेयर्स में ट्रेडिंग नहीं होगी. ऐसे में निवेशकों को अभी थोड़ा इंतजार करना चाहिए. अडाणी ग्रुप की छह कंपनियां शेयर बाजार में लिस्टेड हैं और पिछले एक साल में इन शेयर्स ने 200-1000 पर्सेंट तक रिटर्न दिया है.

अडाणी ग्रुप ने कहा कि इस खबर से ट्रेडिंग के मौके का फायदा उठाना निवेशकों को हुआ भारी नुकसान

समूह की प्रमुख कंपनी अडाणी एंटरप्राइजेज के साथ ही अडाणी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन, अडाणी ग्रीन एनर्जी, अडाणी टोटल गैस, अडाणी ट्रांसमिशन और अडाणी पावर ने शेयर बाजार को बताया कि समूह की कंपनियों में हिस्सेदारी रखने वाले निवेश कोषों अल्बुला इंवेस्टमेंट फंड, क्रेस्टा फंड और एपीएमएस इन्वेस्टमेंट फंड, के खातों को NSDL द्वारा जब्त करने की खबर ‘‘स्पष्ट रूप से भ्रामक है और जान बूझकर निवेशक समुदाय को गुमराह करने के लिए फैलाई गई है.’’ इन कंपनियों ने कहा, ‘‘इससे बड़े पैमाने पर निवेशकों को आर्थिक क्षति और समूह की प्रतिष्ठा को अपूरणीय नुकसान हो रहा है.’’

उन्होंने कहा कि मुद्दे की गंभीरता और अल्पांश निवेशकों पर इसके प्रतिकूल असर को देखते हुए ‘‘हमने उपरोक्त फंडों के डीमैट खाते (खातों) की स्थिति के संबंध में पंजीयक और स्थानांतरण एजेंट से अनुरोध किया था और 14 जून 2021 की दिनांक वाले ई-मेल के जरिए इस बात की लिखित पुष्टि की गई है कि उपरोक्त फंड जिन डीमैट खातों में कंपनी के शेयरों को रखते हैं उन डी मैट खातों को जब्त नहीं किया गया है.’’ इससे पहले खबर आई थी कि NSDL की वेबसाइट पर कथित रूप से बिना कोई कारण बताए अल्बुला इन्वेस्टमेंट फंड, क्रेस्टा फंड और एपीएमएस इंवेस्टमेंट फंड के खातों को जब्त कर दिया गया है.

अडाणी ग्रुप में इनका निवेश 7.8 अरब डॉलर था

तीनों फंड समूह के शीर्ष 12 निवेशकों में शामिल हैं और वार्षिक निवेशक प्रस्तुतियों के मुताबिक 31 मार्च 2020 की स्थिति के मुताबिक अडाणी समूह की पांच कंपनियों में इन कोषों की लगभग 2.1 फीसदी से 8.91 फीसदी तक हिस्सेदारी थी. अडाणी समूह की पांच कंपनियों में उनकी हिस्सेदारी का मूल्य सोमवार को शेयरों में गिरावट से पहले तक 7.78 अरब अमरीकी डॉलर पर था.

बता दें कि इकोनॉमिक टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक, नेशनल सिक्यॉरिटीज डिपॉजिटरी लिमिटेड यानी NSDL ने तीन एफपीआई के अकाउंट को फ्रीज कर दिया है. इन तीन फंड के पास अडाणी ग्रुप के 43500 करोड़ के शेयर हैं. इस खबर के आने के बाद आज अडाणी ग्रुप के शेयर्स कारोबार के दौरान 25 फीसदी तक लुढ़के. अडाणी ग्रुप की छह कंपनियां शेयर बाजार में लिस्टेड हैं. सेकेंड हाफ में कंपनी की तरफ से बयान जारी होने के बाद निवेशकों का ट्रेडिंग के मौके का फायदा उठाना भरोसा लौटा और शेयर में शानदार रिकवरी हुई.

जब अनिश्चितता हो भारी तब सोने में निवेश है समझदारी

पिछले कुछ हफ्तों में बाजार जितनी उठापटक दिखा रहा है उतना ही उतार-चढ़ाव सोने में भी नजर आया है। जब रूस और यूक्रेन के बीच जंग छिड़ी थी उस समय मार्च ट्रेडिंग के मौके का फायदा उठाना में सोने की कीमत एकाएक कुलांचे भरने लगी थी मगर उसके बाद भाव में उतनी ही तेजी से गिरावट भी आई और 27 अप्रैल को सोने का भाव 51,100 रुपये प्रति 10 ग्राम के करीब रह गया, जो पिछले दो महीनों में सबसे कम भाव था। अब अक्षय तृतीया नजदीक आ गई है और सोने की खरीदारी के लिए यह बहुत अच्छा दिन माना जाता है तो जाहिर है कि कई निवेशक इस मौके पर अपने पोर्टफोलियो में इस कीमती धातु की हिस्सेदारी बढ़ाना चाहेंगे। ऐसे में देखते हैं कि दुनिया भर में फैली अनिश्चितता के बीच इस समय सोने के साथ कैसी रणनीति अपनाई जानी चाहिए।

महंगाई से मिल रही हवा

सोने को इस समय सबसे ज्यादा चढ़ाने का काम महंगाई कर रही है और महंगाई पूरी दुनिया को परेशान कर रही है। लग यही रहा है कि यह दिक्कत अभी कुछ अरसा तक बरकरार रहेगी क्योंकि रूस-यूक्रेन युद्घ के कारण आपूर्ति शृंखला कई जगह से टूट गई है और माल की किल्लत के कारण महंगाई बढ़ रही है। सोना महंगाई से बचाने के मामले में सबसे कारगर हथियार साबित होता रहा है। कॉमट्रेंड्ज रिसर्च के निदेशक ज्ञानशेखर त्यागराजन समझाते हैं, 'महंगाई के दौर में सोना अच्छा प्रदर्शन करता ही है। डॉलर कितना ही मजबूत क्यों न हो अगर महंगाई की वजह से समय-समय पर सोने के भाव चढ़ते ही रहेंगे।'

सुविधाओं से परिपूर्ण PAMM

आपके सभी क्लाइंट PAMM एकाउंट में निवेशक बन सकते हैं, भले ही उनके पास कितना भी पैसा हो।

चाहे $30 हो या $300,000, यह उसी तरह से काम करता है। प्लेटफ़ॉर्म उनके हिस्से की गणना करेगा और लाभ एवं हानि को उनके एकाउंट में वितरित करेगा।

PAMM मास्टर एकाउंट सभी स्लेव एकाउंट के शेष राशि से बनता है। निवेशकों द्वारा सभी जमा और निकासी मास्टर एकाउंट के संतुलन के साथ-साथ मुक्त मार्जिन को प्रभावित करते हैं।

हमारे PAMM प्लेटफ़ॉर्म में, जब कोई निवेशक जमा या निकासी करता है, तो उसे तुरंत निष्पादित नहीं किया जाता है - वह जमा / निकासी अनुरोध करता है जिसे मैन्युअल रूप से निष्पादित किया जाएगा या इसे शेड्यूल किया जाएगा।

इसलिए, मनी मेनेजर के पास जमा / निकासी अनुरोधों के निष्पादन के समय पर पूर्ण नियंत्रण होता है और आकस्मिक रुक जाने के खतरे के बिना स्थिति के आकार को समायोजित करते हुए इस स्थिति के लिए अपना एकाउंट तैयार कर सकते हैं।

PAMM प्लेटफ़ॉर्म का निःशुल्क ट्रायल प्रारंभ करें

हमे आपसे सुनने में ख़ुशी ट्रेडिंग के मौके का फायदा उठाना होगी। हमारा संपर्क फ़ॉर्म भरें और हमारा प्रतिनिधि आपसे संपर्क करेगा।

B2Broker हमारे प्रासंगिक सामग्री, उत्पादों और सेवाओं के बारे में आपसे संपर्क करने के लिए आपके द्वारा प्रदान की गई जानकारी का ट्रेडिंग के मौके का फायदा उठाना उपयोग करता है। अधिक जानकारी के लिए, हमारी गोपनीयता नीति देखें। Privacy Policy.

State-of-art architecture of the platform

The investment platform is stand-alone from MT4/5 server software and installed on a separate server connected via manager's API. No plugins need be installed. No calculations are made on the MetaTrader server. No additional load to MT or risk of a crash.

MetaTrader server
Both MT4 and MT5

Live Leaderboard
For broker’s website

Web-Interfaces
For investors and traders

Admin Panel
For administrator

Manager’s App
For broker’s staff

Allocation Service
A service which makes all calculations and allocations

API Service
Service whiсh provides API for client interfaces, widgets and manager’s apps.

Performance Monitoring
All critical errors are monitored by auto-tests and recovery scrypts.

रेटिंग: 4.21
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 866
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *