बाइनरी वैकल्पिक व्यापार की मूल बाते

चरण व्यापार

चरण व्यापार
कॉपीराइट 2014, वाणिज्य विभाग, वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय, भारत सरकार के साथ आरक्षित सभी अधिकार

मुख्य पृष्ठ

प्रधानमंत्री का गुजरात दौरा, आज सुरेंद्रनगर, जंबूसर, नवसारी में भाजपा की चुनाव रैली में लेंगे हिस्सा

प्रधानमंत्री का गुजरात दौरा, आज सुरेंद्रनगर, जंबूसर, नवसारी में भाजपा की चुनाव रैली में लेंगे हिस्सा

नई दिल्ली, 21 नवंबर । गुजरात में सभी राजनीतिक दलों ने चुनाव प्रचार तेज कर दिया है। भाजपा के तमाम दिग्गज नेता मैदान में उतर चुके हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा जैसे तमाम बड़े नेता ताबड़तोड़ जनसभा कर रहे हैं।

आम आदमी पार्टी के नेता दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी माहौल बनाने में जुटे हैं। कांग्रेस चरण व्यापार के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी आज पहली बार चुनाव प्रचार में शामिल होंगे। गुजरात में दो चरणों में विधानसभा चुनाव होने हैं। पहले चरण का चुनाव 1 दिसंबर और दूसरे चरण का 5 दिसंबर को होगा।

भारत और ब्रिटेन के बीच मुक्त व्यापार समझौते को लेकर बातचीत अंतिम चरण में, जल्द अंतिम रूप लेगा यह करार : विन्सेंट केवेनी

लंदन । भारत और ब्रिटेन के बीच मुक्त व्यापार समझौते (एफटीए) को लेकर बातचीत अंतिम चरण में है। लंदन के लॉर्ड मेयर विन्सेंट केवेनी ने यह बात कही है। केवेनी हाल ही में चार दिवसीय भारत यात्रा के बाद लंदन वापस लौटे हैं। उन्होंने कहा कि एफटीए को लेकर कुछ मुद्दे अभी लंबित हैं, लेकिन दोनों पक्षों को उम्मीद है कि समझौते के मसौदे के लिए तय की गई दिवाली की समयसीमा को पूरा कर लिया जाएगा।
केवेनी ने कहा कि भारत में उनका समय काफी अच्छा बीता। एफटीए को लेकर वार्ता अंतिम चरण में है। उन्होंने कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यह स्पष्ट कर दिया है कि वह एफटीए पर दिवाली तक हस्ताक्षर चाहते हैं। हालांकि, कुछ मुद्दे अभी लंबित हैं, लेकिन दोनों पक्ष इस बात को लेकर आशान्वित हैं कि दिवाली तक की समयसीमा में पूरा कर लिया जाएगा। एफटीए की सामग्री कुछ भी हो, निश्चित रूप से यह भारत और ब्रिटेन के संबंधों की दृष्टि से सकारात्मक रहने वाला है।
इस तरह की खबरें हैं कि प्रधानमंत्री मोदी दिवाली के आसपास समझौते पर हस्ताक्षर के लिए ब्रिटेन जा सकते हैं। यह समयसीमा ब्रिटेन के पूर्व प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन की अप्रैल की भारत यात्रा के चरण व्यापार दौरान तय की गई थी। चर्चा है कि ब्रिटेन में नेतृत्व परिवर्तन के बाद शायद इस समयसीमा को पूरा करना संभव नहीं होगा।

औद्योगिक मॉडल टाउन या पार्क या विकास केंद्र स्थापित करने के लिए आवेदन प्रपत्र II

उपक्रमों द्वारा प्रपत्र आईपीएस - 2 का उपयोग औद्योगिक पार्क या शहर / विकास केंद्र की स्थापना के लिए आवेदन करने के लिए किया जा सकता है। उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग में आवेदन करते समय प्रपत्र आईपीएस - 1 और आईपीएस - 2 दोनों एक साथ भरे जाते हैं।

उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग द्वारा उपलब्ध कराये गए प्रपत्र आईपीएस - 1 चरण व्यापार का उपयोग औद्योगिक पार्क या शहर / विकास केंद्र की स्थापना के लिए आवेदन करने के लिए किया जा सकता है। उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग में आवेदन करते समय प्रपत्र आईपीएस - 1 और आईपीएस - 2 दोनों एक साथ भरे जाते हैं।

उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग का ई-बिज़ पोर्टल

ईबिज़ भारत सरकार की ऐसी सुविधा है जहाँ एक ही जगह पर सरकार से व्यवसाय (जी 2 बी) सेवाएँ प्रदान की जाती हैं। उपयोगकर्ताओं को विभिन्न ऑनलाइन सेवाओं का लाभ उठाने के लिए एक खाता बनाने की जरूरत है। उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग की इस पोर्टल की मदद सेउपयोगकर्ता अपने सभी लाइसेंस, मंजूरी, पंजीकरण और नियामक फाइलिंग के लिए आवेदन और प्रबंधन कर सकते हैं। व्यवसाय शुरू करने और इसे चलाने से संबंधित.

वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय द्वारा राष्ट्रीय व्यापार सूचना केन्द्र (एनसीटीआई) की स्थापना व्यापार डेटा के संग्रह और प्रसार और व्यापार सूचना सेवा में सुधार के चरण व्यापार लिए संस्थागत तंत्र बनाने के लिए की गई है। सदस्य लॉग इन चरण व्यापार कर भारत में व्यापार करने संबंधी विभिन्न जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। केंद्र द्वारा दी जाने वाली सेवाओं, व्यापार, सहयोग पर भी जानकारी दी गई है।

प्रमाणन और पेटेंट योजना संबंधी उद्योगों के लिए गोवा राज्य वित्तीय प्रोत्साहन पर जानकारी

गोवा के उद्योग, व्यापार और वाणिज्य (जीडीआइटीसी) निदेशालय द्वारा शुरू की गई राज्य वित्तीय प्रोत्साहन के लिए वर्ष 2003 की उद्योगों की प्रमाणन और पेटेंट योजना से सम्बन्धित जानकारी उपलब्ध कराई गई है। उपयोगकर्ता योजना, उसके उद्देश्यों, पात्रता, सहायता की मात्रा, निगरानी और संवितरण के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। आवेदन की प्रक्रिया और वितरण प्रक्रिया से भी सम्बन्धित जानकारी उपलब्ध कराई गई.

वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के वाणिज्य विभाग के नागरिक अधिकार-पत्र उपलब्ध कराए गए हैं। उपयोगकर्ता विभाग के उद्देश्यों, दूरदृष्टि, प्रतिबद्धता, शिकायत प्रकोष्ठ और जनसंपर्क कार्यालय के संपर्क विवरण से सम्बन्धित जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

विदेशी सहयोग और औद्योगिक लाइसेंस के लिए समग्र प्रपत्र

उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग द्वारा उद्यमियों के लिए एक समग्र प्रपत्र उपलब्ध कराया गया है जिसके द्वारा वे औद्योगिक लाइसेंस और विदेशी सहयोग प्राप्त कर सकते हैं। प्रपत्र दो भागों में बांटा गया है। भाग ए विदेशी सहयोग और भाग बी औद्योगिक लाइसेंस के लिए है।

उपयोगकर्ता वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय के उद्योग संवर्धन और आंतरिक व्यापार विभाग का नागरिक अधिकार-पत्र देख सकते हैं। इस विभाग, इसके मिशन, मूल्यों, औद्योगिक अनुमोदन के मानकों, मुख्य सेवाओं, लेन-देन, हितधारकों आदि के बारे में जानकारी दी गई है। 2010 के बाद के नागरिक अधिकार-पत्र डाउनलोड किये जा सकते हैं।

Haryana Panchayat Chunav : हरियाणा में इन चार जिलों में थमा चुनाव प्रचार, पंचायत चुनाव के अंतिम चरण का कल होगा मतदान

Haryana Panchayat Chunav

Haryana Panchayat Chunav : हरियाणा में पंचायती राज संस्थाओं के तीसरे चरण के चार जिलों फरीदाबाद, पलवल, हिसार और फतेहाबाद में प्रचार थम गया है। अब प्रत्याशी सोमवार तक घर घर जाकर वोट मांग सकेंगे। चारों जिलों में 22 नवंबर को जिला परिषद और ब्लाक समिति के पदों के चुनाव के लिए हरियाणा राज्य चुनाव आयोग ने चुनाव की तमाम तैयारियां पूरी कर ली हैं। सोमवार शाम को कर्मचारी ईवीएम लेकर मतदान केंद्रों पर पहुंच जाएंगे।


चारों जिलों में कुल 11928 सीटों पर मतदान होगा। इनमें जिला परिषद की 78, पंचायत समिति की 559, सरपंच 929 और पंच की 10362 सीटें हैं। जबकि कुल 2209949 मतदाता हैं, इनमें से 1185450 पुरुष और 1023341 महिलाएं हैं।जिला परिषद की सीटों की बात करें तो कुल 78 सीटों में फरीदाबाद की 10, फतेहाबाद की 18, हिसार की 30 और पलवल की 20 हैं। इनमें से कुल 19 सीटें महिलाओं के लिए आरक्षित हैं, इनमें अनुसूचित जाति की महिलाएं भी शामिल हैं।

भारत सरकार

89_azad

भारतीय आभूषण की गुणवत्तार, डिजाइन एवं वैश्विक स्त र पर प्रतिस्प र्धी क्षमता बढ़ाने के उद्देश्यभ से सूरत, गुजरात में वर्ष, 1978 में चरण व्यापार सोसायटी के रूप में भारतीय हीरा संस्थाेन स्‍‍थापित किया गया। यह संस्थाेन वाणिज्ये विभाग द्वारा प्रायोजित है तथा रत्नस एवं आभूषण निर्यात संवर्धन परिषद (जी जे ई पी सी) की एक परियोजना है। भारतीय हीरा संस्थाटन ने रत्नी एवं आभूषण उद्योग को तकनीकी कौशल प्रदान करने के लिए अपने आपको एक अग्रणी संस्था न के रूप में विकसित किया है।

संस्था न हीरा एवं आभूषण व्यादपार एवं उद्योग से संबंधित विभिन्नस डिप्लो(मा एवं अन्य पाठ्यक्रमों का संचालन करता है। यह हीरा, रत्न एवं आभूषण डिजाइन एवं विनिर्माण पर तीन वर्षीय डिप्लोामा पाठ्यक्रम भी प्रदान करता है। संस्था‍न की हीरा प्रमाणन एवं श्रेणीकरण प्रयोगशाला पूरी दुनिया में विख्यामत है तथा इसकी प्रयोगशाला 0.25 कैरेट तथा इससे अधिक कैरेट के हीरों के प्रमाणन / श्रेणीकरण के लिए विदेश व्यावपार नीति 2009-14 के अध्या‍य-4 के अनुसार डी जी एफ टी, एम ओ सी एंड आई द्वारा अधिकृत भी है। भारतीय हीरा संस्थानन को वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान विभाग, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्रालय, भारत सरकार के तहत वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान संगठन (एस आई आर ओ) के रूप में मान्यथता प्रदान की गई है। इसे उद्योग आयुक्ता लय, गुजरात सरकार द्वारा एंकर संस्थामन (रत्ना एवं आभूषण) के रूप में भी मान्य ता प्रदान की गई है।

रेटिंग: 4.66
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 658
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *