बाइनरी वैकल्पिक व्यापार की मूल बाते

क्या फॉरेक्स आपको अमीर बना सकता है

क्या फॉरेक्स आपको अमीर बना सकता है

Guru Trade 7 kya hai l Guru Trade 7 Real or Fake in Hindi

हम किसी भी ट्रेडिंग अप्लीकेशन का रिव्यू उसका प्रयोग करने के बाद ही आप सभी के साथ शेयर करते हैं अगर आप भी Guru Trade 7 app का क्या फॉरेक्स आपको अमीर बना सकता है प्रयोग करने का विचार बना रहें हैं तो उससे पहले एक बार आप हमारे इस पोस्ट को अंत तक जरूर पढ़ें

इस पोस्ट में हम आपको बताएंगे गुरु ट्रेड 7 ऐप क्या है, कैसे आप ग्रुप ट्रेड 7 ऐप प्रयोग करके पैसे कमा सकते हैं और सबसे अहम बात किया गुरु ट्रेड 7 ऐप मान्यता प्राप्त अप्लीकेशन है यानी किया इस अप्लीकेशन का प्रयोग करना पूरी तरह से सेफ है

सही जानकारी हासिल करने के लिए आप हमारे इस पोस्ट को पूरा जरूर पढ़ें चलिए शुरू करते हैं guru trade 7 wikipedia in hindi की पूरी जानकारी

Guru Trade 7 kya hai । Guru Trade 7 kya Hai in Hindi

चलिए अब जानते हैं Guru Trade 7 kya Hai पूरी दुनिया में तेजी से वायरल होने वाला Guru Trade 7 एक फॉरेक्स बाइनरी ट्रेडिंग अप्लीकेशन है

इस अप्लीकेशन का प्रयोग कर आप बहुत आसानी से विदेशी करंसी और कंपनियों में ट्रेड कर सकते हैं

जैसे कि Bitcoin, USD-INR (OTC), EUR-CAD, ETHEREUM,EUR,GOLD,SLIVER,NZD-USD,EUR-GBP,EUR-JPY,USD-CHF,EUR-USD,GBP-CAD,GBP-JPY इसके अलावा और भी कुछ Asset Guru Trade 7 में मिलते हैं आपको ट्रेड करने के लिए

Guru Trade 7 Aplication को अब तक दस मिलियन से अधिक डाउनलोड किया जा चुका है और इस अप्लीकेशन को स्टार रेटिंग 4.4 की यूजर्स द्वारा दी गई है

बहुत सारे लोग Guru trade 7 ऐप पर ट्रेडिंग कर हर रोज अच्छा पैसा कमा रहे हैं भारत में भी इस ऐप को बहुत पसंद किया जा रहा है

इस अप्लीकेशन का प्रयोग करने के लिए सबसे पहले आप इस अप्लीकेशन को अपने मोबाइल फोन में क्या फॉरेक्स आपको अमीर बना सकता है डाउनलोड करें और लॉगिन करें चलिए अब जानते कैसे आप गुरु ट्रेड 7 से पैसे कमा सकते हैं

Guru Trade 7 se paise kaise kamaye

Guru Trade 7 app से पैसे कमाने के लिए सबसे पहले आपको इस अप्लीकेशन को गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड करना है उसके बाद आप इस अप्लीकेशन में लॉगइन करें

उसके बाद आप इस अप्लीकेशन के रियल अकाउंट में कुछ पैसे डिपॉजिट करें पैसे डिपॉजिट हो जाने के बाद आप ट्रेडिंग करना शुरू कर सकते हैं

ट्रेडिंग करने के लिए आपको मिलता है गुरु ट्रेड 7 अप्लीकेशन के डैशबोर्ड पर एक ग्राफ जो हर समय UP Down चलता रहता है यह ग्राफ इस अप्लीकेशन में इंडेक्स हुई कंपनीयों के प्रॉफिट और लॉस के हिसाब से चलता है

ट्रेड लेते समय आपको इस चलते हुए ग्राफ का सही अनुमान लगाना है अगर आप लग रहा है ग्राफ ऊपर की तरफ जाने वाला है उस समय आपको ऊपर की ट्रेड लेनी होगी ऊपर की ट्रेड लेने के लिए आपको हरे रंग के Call बटन पर क्लिक करना है

इसी तरह अगर आपको नीचे की तरफ़ ट्रेड लेनी है तो आप को लाल रंग के Put बटन को क्लिक करना है ट्रेड लेना आप 20 रुपए से शुरू कर सकते हैं 20 रुपए की ट्रेड जीतने पर आपको 15 रूपए का प्रोफिट होगा यानी total 35 रुपए

लेकिन किसी भी ट्रेडिंग ऐप से पैसे कमाने से पहले इससे सीखना बहुत जरूरी होता है इसलिए Guru Trade 7 आपको देता ट्रेडिंग सीखने के लिए डेमो अकाउंट और साथ ही दस हजार रुपए का डेमो बैलेंस

डेमो अकाउंट की मदद से आप बहुत ही आसानी से ट्रेडिंग सीख सकते हैं ट्रेडिंग सीखने के बाद आप रियल अकाउंट में पैसे डिपॉजिट करके रियल ट्रेडिंग की प्रक्रिया शुरू कर सकते हैं
Guru trade 7 पर आप Paytm ,UPI और net banking का इस्तेमाल कर बहुत ही आसानी से पैसे Deposit और withdrawal कर सकते हैं

guru trade 7 minimum deposit गुरु ट्रेड 7 ऐप में आप कम से कम 100 रूपए deposit कर सकते हैं और कम से कम 20 रूपए से ट्रेडिंग करना शुरू कर सकते हैं Guru trade 7 में आप Paytm ,UPI और net banking के जरिए आप बहुत ही आसानी से पैसे Deposit और withdrawal कर सकते हैं

लेकिन ध्यान रहे इस प्रकार के सभी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर 50 परसेंट चांस जीतने के और 50 परसेंट चांस हारने के हर समय होता है

जरूरी सुचना

Guru Trade 7 में आप किसी प्रकार का Personal ID Proof या फिर आपको Bank Account no देने की बिल्कुल जरूरत नहीं है Guru Trade 7 app में पैसे ऐड करने के लिए आप Phonepay, UPI ID या फिर Googlepay का इस्तेमाल कर सकते हैं

2.किसी भी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म पर उतना ही पैसा लगाएं जितना की हार जाने पर आप को ज्यादा दुःख ना पहुंचे लालच बिल्कुल ना करें अगर आप को लग रहा है आप बार बार हार रहे हैं ऐसे में आप बिट लगाना बंद कर दें कुछ समय बाद फिर से ट्राई करें

3.कभी भी Guru Trade 7 के कस्टमर केयर नंबर या फिर ई मेल के जरिए बात चीत के दौरान आप अपना Bank Details, OTP, Aadhar card, Pan card या फिर कोई भी ऐसी पर्सनल जानकारी शेयर ना करें ऐसा करने से आपके साथ किसी भी प्रकार का फ्रॉड हो सकता है

4.आगर आप Trading appके जरिए पैसे कमाना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको कुछ खास बातों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है

जैसे कि आप जिस TradingPlatform पर आप Tradeकरने का विचार कर रहे हैं उस TradingPlatform या फिर उस Trading company के बारे में आपको थोड़ी बहुत जानकारी होना बहुत जरूरी है

जैसे के कंपनी का मालिक कोन है, किस देश कीTradingcompanyहै, Trading companyसे अब तक कितने लोग पैसा कमा चुके हैं और सबसे अहम बात ट्रेडिंग अप्लीकेशनlegal या UN legal है इस प्रकार की सही जानकारी होना के बाद ही आप ट्रेडिंगकरने की शुरुआत करें

Guru Trade 7 Real or Fake in Hindi

अब हम आपको बताएंगे guru trade 7 fake or real के बारे में जो हर ट्रेड को जानना बहुत जरुरी है भारत की SEBI संसथा द्वारा निर्देश जारी किया गया है

जिसमें कहा गया है किसी भी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म (कंपनी) का SEBI डिपार्टमेंट में रजिस्ट्रेशन करवाना बहुत जरूरी है SEBI संस्था में रजिस्ट्रेशन होने के बाद ही किसी भी ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म को लीगल माना जाएगा

अगर बात की जाए guru trade 7 fake or real के बारे में तो यह अप्लीकेशन SEBI संस्था में बिल्कुल रजिस्टर्ड नहीं है यानी यह अप्लीकेशन भारत में अन लीगल अप्लीकेशन है

आप इस अप्लीकेशन का प्रयोग अपने रिक्स पर कर सकते हैं इसी प्रकार हर साल कितने ही ऐसे फ्रॉड मामले दर्ज होते हैं जो पर इस प्रकार के ट्रेडिंग अप्लीकेशन लोगों को बहुत जल्द अमीर बना देने का दावा करते हैं और लोगों के साथ फ्रॉड करते हैं

जिससे देखते हुए RBI द्वारा सख्त निर्देश जारी किया है इस कानून को यहां से जरूर पढ़ें

यह भी पढ़ें
अगर आप ट्रेडिंग या फिर शेयर बाजार के जरिए आप पैसा कमाना चाहते हैं तो इसके लिए सबसे पहले आपके पास एक लीगल ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म का होना बहुत जरूरी है

आप कभी भी अन लीगल फॉरेक्स ट्रेडिंग अप्लीकेशन का प्रयोग कर पैसा बिल्कुल नहीं कमा सकते हैं SEBI द्वारा मान्यता प्राप्त अप्लीकेशन का ही प्रयोग करें लीगल अप्लीकेशन की सही जानकारी यहां से हासिल करें

Guru Trade 7 Ka Malik Kon Hai

guru trade 7 ka malik kon hai इस के बारे में इंटरनेट पर किसी प्रकार की कोई भी जानकारी उपलब्ध नहीं है .

Guru Trade 7 Kis Desh ka hai

इंटरनेट पर आपको बताया जा रहा है guru trade 7 एक भारतीय ऐप है लेकिन अगर आप guru trade 7 के ऐप को अच्छे से चैक करते हैं तो आप को कहीं पर भी यह नहीं लिखा मिलेगा के guru trade 7 भारतीय ऐप है

इसके अलावा एक address दिया गया है जो कुछ इस प्रकार है Address: First Floor, First St Vincent Bank Ltd Building, James Street, Kingstown, St. Vincent and the Grenadines इस Address को पढ़ने से साफ पता चलता है यह एक विदेशी ऐप है

Guru Trade 7 helpline number

guru trade 7के कस्टमर केयर का किसी भी प्रकार का contact number कंपनी द्वारा नहीं दिया गया है आप सिर्फ chat के जरिए guru trade 7 के कस्टमर केयर से बात कर सकते हैं

Guru Trade 7 Email address

Guru trade 7 email address ([email protected])

Guru trade 7 minimum withdrawal

Guru trade 7 में आप पहली बार 500 रूपए withdrawal कर सकते हैं

आज आपने इस लेख में किया सीखा
आज हमने आपको इस लेख में बताया Guru Trade 7 kya hai और Guru Trade 7 real or fake के बारे मे

आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी आपको कैसी लगी अगर आपको हमारी यह जानकारी अच्छी लगी तो कृपया आप इस जानकारी को अपने दोस्तों को भी शेयर जरुर करे पोस्ट में अंत तक पढ़ने के लिए आप का धन्यवाद !!

विदेशी कंपनियों में पैसा लगाने की रहे हैं सोच? तो हो जाएं सावधान, समझें पूरा मामला

क्या आप भी फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब, गूगल, बिंग आदि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर विज्ञापन देखकर विदेशी कंपनियों में पैसा लगाकर मोटा मुनाफा कमाने की सोच रहे हैं. अगर हां, तो तुरंत अपनी सोच को यहीं रोक दीजिए.

विदेशी कंपनियों में पैसा लगाने की रहे हैं सोच? तो हो जाएं सावधान, समझें पूरा मामला

अभिषेक श्रीवास्‍तव | Edited By: सौरभ शर्मा

Updated on: Feb 06, 2022 | 6:35 AM

क्‍या आप भी फेसबुक (Facebook), ट्विटर (Twitter), यूट्यूब (Youtube), क्या फॉरेक्स आपको अमीर बना सकता है गूगल (Google), बिंग आदि सोशल मीडिया (Social Media) प्‍लेटफॉर्म्‍स पर विज्ञापन देखकर विदेशी कंपनियों में पैसा लगाकर मोटा मुनाफा (Profit) कमाने की सोच रहे हैं. अगर हां, तो तुरंत अपनी सोच को यहीं रोक दीजिए. भारतीय क्या फॉरेक्स आपको अमीर बना सकता है रिजर्व बैंक यानी RBI ने अनऑथराइज्‍ड इलेक्‍ट्रॉनिक ट्रेडिंग प्‍लेटफॉर्म यानी ETP पर विदेशी मुद्रा कारोबार नहीं करने या ऐसे लेनदेन के लिए पैसे भेजने से जनता को सावधान किया है. RBI ने अपनी चेतावनी में कहा है कि ऐसा करने वालों के खिलाफ विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम यानी फेमा के तहत दंडात्‍मक कार्रवाई की जाएगी. केंद्रीय बैंक को पता चला है कि सोशल मीडिया, सर्च इंजन, ओटीटी प्‍लेटफॉर्म्‍स, गेमिंग ऐप्‍स और इसी तरह के दूसरे प्‍लेटफॉर्म्‍स पर भ्रामक विज्ञापनों के जरिये अनाधिकृत ईटीपी से विदेशी मुद्रा कारोबार की पेशकश की जा रही है.

RBI डिजिटल मीडिया पर अनऑथराइज्‍ड फॉरेन एक्‍सचेंज एंड डेरीवेटिव्‍स ट्रेडिंग प्‍लेटफॉर्म का विज्ञापन करने वाले कंटेंट पर रोक लगाने के लिए ट्राई और मिनिस्‍ट्री ऑफ इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स ऐंड इंफॉर्मेशन टेक्‍नोलॉजी से संपर्क करने पर विचार कर रहा है.

ऐसे विज्ञापनों पर भी रोक की तैयारी

केंद्रीय बैंक मंत्रालय और नियामक संस्‍था से प्रमुख सोशल मीडिया और सर्च इंजन प्‍लेटफॉर्म्‍स जैसे फेसबुक, ट्विटर, यूट्यूब, गूगल, बिंग आदि के लिए कुछ ऐसे नए प्रावधान बनाने के लिए कहेगा, जो ऐसे विज्ञापनों पर रोक लगाएंगे. इसके अलावा गूगल, एप्‍पल और माइक्रोसॉफ्ट के प्रमुख ऐप स्‍टोर से भी भारतीय कानून का पालन नहीं करने वाले अनऑथराइज्‍ड ट्रेडिंग प्‍लेटफॉर्म को हटाने के लिए कहा जाएगा. इलेक्‍ट्रॉनिक फॉरेक्‍स ट्रांजेक्‍शन के लिए केवल आरबीआई अधिकृत ईटीपी या मान्‍यताप्राप्‍त स्‍टॉक एक्‍सचेंज का ही इस्तेमाल करें.

ऐसा भी पता चला है कि अनाधिकृत ईटीपी ने कुछ एजेंट्स भी नियुक्‍त किए हैं, जो लोगों से सीधा संपर्क कर उन्‍हें फॉरेक्‍स ट्रेडिंग या इनवेस्‍टमेंट स्‍कीम में बहुत अधिक लाभ का लालच देकर निवेश करवा रहे हैं. आरबीआई ने इसे एक नए तरह की धोखाधड़ी बताया है, जिससे सभी लोगों को सावधान रहने की जरूरत है.

आपको बता दें कि भारतीयों में विदेशी शेयरों, खासकर अमेरिकी कंपनियों के शेयरों में निवेश का चलन तेजी पकड़ बना रहा है. टेस्ला, माइक्रोसॉफ्ट , अमेजन, फेसबुक और गूगल जैसी कंपनियां भी तेजी से अमीर होती जा रही हैं. इन कंपनियों की तेजी से होती ग्रोथ को देखकर भारत से भी कई निवेशक अमेरिकी कंपनियों में पैसा लगा रहे हैं.

विदेश यात्रा पर जा रहे हैं, जानिए वहां Credit Card का इस्तेमाल कैसे करें?

टाइम्स नाउ डिजिटल

विदेश में लेनदेन करने के लिए क्रेडिट कार्ड सबसे सुविधाजनक तरीकों में से एक है। अगर आप विदेश यात्रा करने जा रहे हैं तो आपको उससे संबंधित योजना, खास तौर पर वित्तीय योजना, बनाने पर विचार करना चाहिए।

credit card usage at abroad

कई देशों द्वारा कोविड-19 के मद्देनजर लगाई गई यात्रा प्रतिबंधों में ढील दिए जाने के बाद यह उम्मीद की जा रही है कि विदेश यात्रा में तेजी आएगी। यदि आप विदेश यात्रा के बारे में सोच रहे हैं तो आपको उससे संबंधित योजना, खास तौर पर वित्तीय योजना, बनाने पर विचार करना चाहिए। विदेश यात्रा के दौरान अपने साथ पैसे ले जाने के विभिन्न तरीके हैं। आप नकद राशि, फॉरेक्स कार्ड या ट्रैवलर्स कार्ड ले जा सकते हैं लेकिन इनके साथ उतनी सुविधा या विकल्प नहीं मिलता जैसा एक क्रेडिट कार्ड पर मिलता है।

विदेश में लेनदेन करने के लिए क्रेडिट कार्ड सबसे सुविधाजनक तरीकों में से एक है। किसी स्टोर में खरीदारी करते समय भुगतान करने के लिए या जरूरत पड़ने पर पैसे निकालने की सुविधा के अलावा, कार्ड के उपयोग पर आपको रिवार्ड पॉइंट, कैश बैक और डिस्काउंट जैसे कई अन्य लाभ भी मिलते हालांकि, विदेश में अपने कार्ड का उपयोग करते समय ऐसी कई चीजें हैं जिनके बारे में आपको पता होना चाहिए।

सही क्रेडिट कार्ड चुनें

मार्केट में ऐसे कई क्रेडिट कार्ड प्रोडक्ट मौजूद हैं जो विदेश यात्रा के दौरान उपयोग के लिए सबसे मुफीद होने का दावा करते हैं। हर कार्ड एक अलग तरह के लाभ की पेशकश करता है। अपने लिए क्रेडिट कार्ड खरीदने से पहले उन क्या फॉरेक्स आपको अमीर बना सकता है पर मिलने वाले विकल्पों की तुलना करें। और उसके बाद वह कार्ड चुनें जो आपकी जरूरतों के मुताबिक सबसे उपयुक्त हो ताकि वे उन अनुभवों की प्राप्ति में आपकी मदद कर सकें जिनकी आप योजना बना रहे हैं। जिस देश में आप यात्रा कर रहे हैं, वहां लगने वाले लेनदेन शुल्क, विलंब भुगतान शुल्क, रिवार्ड, डिस्काउंट और कार्ड की स्वीकार्यता के बारे में पता कर लें।

आपके कार्ड जारीकर्ता को आपकी विदेश यात्रा के बारे में पता होना चाहिए

यात्रा करने से पहले अपने कार्ड जारीकर्ता को अपनी योजना के बारे में सूचित करें। अब सभी कार्ड पर आपके नेट बैंकिंग या ऐप के माध्यम से अंतरराष्ट्रीय लेनदेन को सक्षम या अक्षम करने की सुविधा प्राप्त है। इस विकल्प को चालू किए बिना, आप अपने कार्ड से विदेश में लेनदेन नहीं कर पाएँगे। अगर आपने इसे चालू नहीं किया है तो आपका कार्ड जारीकर्ता आपके लेनदेन को संदिग्ध मान कर आपके कार्ड को ब्लॉक कर देगा। यदि यात्रा के दौरान आपका कार्ड ब्लॉक हो जाता है,तो आप कार्ड जारी करने वाली कंपनी को कॉल कर इसे अनब्लॉक करा सकते हैं।

एक से अधिक क्रेडिट कार्ड ले जाने का प्रयास करें

यात्रा करते समय एक या दो से अधिक कार्ड रखने का फायदा यह है कि किसी एक कार्ड के स्वीकार नहीं होने पर होनी वाली परेशानियों से बच जाएंगे। कभी-कभी ऐसा हो सकता कि फ़ॉरेन मर्चेंट किसी खास फाइनेंशियल नेटवर्क से संबद्ध कार्ड को स्वीकार न करें। इसलिए मास्टरकार्ड, वीजा या अमेरिकन एक्सप्रेस जैसे विभिन्न नेटवर्क वाले कई कार्ड ले जाना मददगार साबित हो सकता है। यदि कोई एक कार्ड विफल रहता है तो ऐसी स्थिति में दूसरा कार्ड काम आ सकता है। इन कार्डों को एक साथ रखने के बजाय अलग-अलग रखें ताकि कोई एक गुम हो जाए तो वक्त पर दूसरा काम आ सके।

अपने पास जारीकर्ता कंपनी का संपर्क नंबर रखें

विदेश यात्रा के दौरान आपके पास कार्ड जारीकर्ता का संपर्क विवरण होना चाहिए, जैसे कि आपके रिलेशनशिप मैनेजर का फोन नंबर। यह इसलिए जरूरी है ताकि धोखाधड़ी जैसी आपातकालीन स्थितियों के दौरान टोल नंबर पर संपर्क नहीं हो पर भी आप अपने क्रेडिट कार्ड जारीकर्ता से संपर्क कर पाएँ। कुछ अंतरराष्ट्रीय कार्ड जारीकर्ता कंपनियाँ विदेश यात्रा करते समय ओरिजिनल क्रेडिट कार्ड के गुम हो जाने की स्थिति में आपातकालीन कार्ड जारी करने की सुविधा भी प्रदान करती हैं। यात्रा पर जाने से पहले आप अपने कार्ड जारीकर्ता से ऐसी सुविधाओं के बारे में जानकारी ले सकते हैं।

बीमा लाभ के साथ कार्ड चुनें

आपके द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले क्रेडिट कार्ड के प्रकार और श्रेणी के आधार पर, आपको अपने कार्ड के साथ कई तरह के संबद्ध लाभ मिल सकते हैं। उनमें से एक ट्रैवल इंश्योरेंस है। इसमें सामान (बैगेज) और पासपोर्ट गुम होने, उड़ान में देरी, दुर्घटना या टिकट कैंसिलेशन के निमित्त जोखिम कवर मिलता है। बीमा लाभ एक कार्ड से दूसरे कार्ड में अलग-अलग होता है, इसलिए आपको यात्रा करने से पहले उनकी जाँच कर लेनी चाहिए। कुछ कार्ड कंपनियाँ केवल घरेलू यात्रा के लिए बीमा लाभ दे सकती हैं, इसलिए आपको वह कार्ड लेना चाहिए जो विदेश यात्रा के दौरान आपकी कवर प्रदान करे।

एयरपोर्ट लाउंज की सुविधा देखें

विदेश यात्रा करना एक महंगा सौदा हो सकता है। इससे यह जानने में मदद मिलेगी कि कौन-सा क्रेडिट कार्ड आपको एयरपोर्ट लाउंज में प्रायोरिटी एक्सेस या डिस्काउंट प्रदान करता है। आप प्रायोरिटी एक्सेस पास का उपयोग कर स्टॉपओवर के दौरान कंप्लिमेंटरी भोजन, जलपान और लाउंज एक्सेस प्राप्त कर सकते हैं।

ऊपर चर्चा किए गए बिंदुओं के अलावा, आपको करेंसी ट्रांज़ेक्शन मार्क-अप चार्ज, एटीएम निकासी शुल्क और विदेशी लेनदेन शुल्क जैसे अन्य महत्वपूर्ण बिंदुओं पर भी विचार करना चाहिए। कार्ड पर आपके पैसे खर्च हो सकते हैं लेकिन आपको यह मूल्यांकन करना चाहिए कि क्या ये खर्च पैसा-वसूल हैं और आपकी यात्रा को आसान बनाते हैं।

(इस लेख के लेखक, BankBazaar.com के CEO आदिल शेट्टी हैं)
(डिस्क्लेमर: ये लेख सिर्फ जानकारी के उद्देश्य से लिखा गया है। इसको निवेश से जुड़ी, वित्तीय या दूसरी सलाह न माना जाए)

Times Now Navbharat पर पढ़ें Business News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Share Market

पेनी स्टॉक क्या होते हैं, इनकी विशेषताएँ, प्रकार, फायदे और इनसे जुड़े सुझाव।

penny stock

शेयर मार्किट पैसे से पैसे बनाने का एक प्रचलित माध्यम है। पेनी स्टॉक इसी पैसे बनाने वाली मार्किट से जुड़ा हुआ एक शब्द है। कहने का आशय यह है की यदि आपने शेयर बाज़ार के सही स्टॉक में निवेश किया तो वह आपके पैसे को दोगुना, तिगुना या दस गुना तक भी बढ़ा सकता है। … Read more

एक ऐसा स्टॉक जिसने 1 लाख के बना दिए 1.59 करोड़ ।

Cressanda Solutions Ltd. share

यद्यपि स्टॉक मार्किट भी पैसे कमाई करने का एक बेहतरीन साधन है, लेकिन यहाँ जोखिम भी बहुत अधिक है। वह इसलिए क्योंकि जिस स्टॉक को आप आज जिस कीमत पर खरीद रहे हैं, हो सकता है कल को उसकी कीमत गिर जाए, और आपको नुकसान उठाना पड़े। इसलिए शेयर मार्किट में निवेश करने से पहले … Read more

स्टॉक एक्सचेंज क्या है | कैसे काम करता है? फायदे और निवेश के तरीके |

स्टॉक एक्सचेंज क्या है

स्टॉक एक्सचेंज की यदि हम बात करें, तो यह शेयर बाजार का एक बेहद महत्वपूर्ण घटक है। यह फाइनेंसियल इंस्ट्रूमेंट के ट्रेडर्स और खरीदारों को लेनदेन क्या फॉरेक्स आपको अमीर बना सकता है की सुविधा प्रदान करता है। भारत में उपलब्ध Stock Exchange को सेबी विनियमित करता है। यानिकी इन्हें भारतीय प्रतिभूति और विनियमन बोर्ड (सेबी) द्वारा निर्देशित और निर्धारित सभी नियमों … Read more

म्यूच्यूअल फण्ड में निवेश के लिए केवाईसी वेरिफिकेशन कैसे कम्पलीट करें।

How to get KYC Registration online

जैसा की हम एवं हमारे नियमित आदरणीय पाठकगण अच्छी तरह से जानते हैं की हम यहाँ पर समय समय पर शेयर मार्किट, म्यूच्यूअल फण्ड, एसआईपी इत्यादि के बारे में भी जानकारी देते आये हैं । जहाँ पहले इस तरह के निवेश को अमीर लोगों से जोड़कर देखा जाता था वहीँ वर्तमान में SIP के माध्यम … Read more

फॉरेक्स ट्रेडिंग क्या है? कैसे शुरू करें।

Forex-Trading-kya-hai

फॉरेक्स ट्रेडिंग से भले ही आप परिचित हों या नहीं, लेकिन लाभ प्राप्त करने का यानिकी निवेश से कमाई करने का यह भी एक शानदार तरीका है। इसलिए इसे समझने से पहले हमें यह समझना होगा की प्रत्येक देश की अपनी अलग अलग मुद्रा होती है। और प्रत्येक राष्ट्र की मुद्रा एक दुसरे के मुकाबले … Read more

म्यूच्यूअल फण्ड एजेंट या डिस्ट्रीब्यूटर कैसे बनें। How to become a Mutual fund Agent.

mutual-fund-agent-kaise-bane

Mutual Fund agent पर बात करना इसलिए जरुरी हो जाता है क्योंकि वर्तमान में म्यूच्यूअल फण्ड निवेश का एक बेहद प्रचलित तरीका बनकर सामने आया है । इसलिए निवेश करने के इच्छुक लोग इस प्रकार के फंडों में निवेश करना पसंद करते हैं ताकि वे अपने किये गए निवेश पर कमाई कर पाने में सक्षम … Read more

डीमैट अकाउंट क्या है। इसके फायदे, शुल्क एवं खोलने की प्रक्रिया।

Demat-account-kya-hai

डीमैट अकाउंट नामक यह शब्द आपने अन्य लोगों के मुहं से शायद कई बार सुना होगा, लेकिन झिझक के चलते शायद आप उनसे पूछ नहीं पाए होंगे की ये होता क्या है? लेकिन इसके बावजूद आपके अंतर्मन में डीमैट के बारे में जानने की इच्छा बराबर बनी होगी, तो यह जानने के लिए आपने इन्टरनेट … Read more

स्टॉक मार्केट में निवेश करने के फायदे एवं नुकसान |

stock-market-me-nivesh-karne-ke-fayde-nuksan

हालांकि यह सत्य है की लोग अपनी कमाई करने के वशीभूत होकर ही स्टॉक मार्केट में निवेश करते भी हैं और करने की इच्छा भी रखते हैं | लेकिन सच्चाई यह क्या फॉरेक्स आपको अमीर बना सकता है है की यह जरुरी नहीं है की हर व्यक्ति इसमें निवेश करके अपनी कमाई ही करेगा बल्कि बहुत सारे लोग ऐसे भी होते हैं … Read more

जान बचाने के लिए देश खेल रहा 'कौन बनेगा वैक्सीनपति',ये नौबत क्यों?

अमीर देशों ने अपनी आबादी से 2-3 गुना वैक्सीन स्टॉक की थी

जान बचाने के लिए देश खेल रहा 'कौन बनेगा वैक्सीनपति',ये नौबत क्यों?

भारत के लोग आजकल हर सुबह, दोपहर, शाम और रात अपना स्मार्टफोन/गैजेट उठाकर एक नया पसंदीदा खेल खेलने लगे हैं जिसका नाम है- फास्टेस्ट फिंगर फर्स्ट, मतलब सबसे तेज उंगलियां किसकी चलती हैं इसकी प्रतियोगिता. खेल में पहले से ही तय है कि ज्यादातर लोगों के हाथ हार ही लगेगी. लेकिन जो इस खेल को जीत जाते हैं वो अपने हुनर के कसीदे दुनियावालों को सोशल मीडिया के जरिए बताते रहते हैं. कई सारे टेक्निकल गुरुओं ने इस खेल में फतह हासिल करने के लिए अपने एप खोल लिए हैं. टेलीग्राम से लेकर व्हाट्एस पर आपकी जीत सुनिश्चित कराने के लिए नोटिफिकेशन भेजे जाने की व्यवस्था की गई है.

अगर आप सोच रहे हैं कि ये सब तैयारी कौन बनेगा करोड़पति वाले खेल फास्टेस्ट फिंगर फर्स्ट के लिए हो रही है तो पहले ही साफ कर दें कि ऐसा नहीं है. ये पूरी कवायद हो रही है खुद के लिए वैक्सीन स्लॉट बुक करने के लिए. कोरोना महामारी की दूसरी लहर जब हाहाकार मचा रही है. तब इस वायरस से लड़ाई के रामबाण यानी वैक्सीन पाने के लिए जबरदस्त जद्दोजहद करनी पड़ रही है.

अगर आपके पास स्मार्ट फोन या स्मार्ट डिवाइस नहीं है तो अभी आपको और ज्यादा लंबा इंतजार करना होगा. उम्मीद है कि आपकी बारी भी आ ही जाएगी.

कोर्ट में सरकार की खिंचाई

9 मई को सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार की खिंचाई की और वैक्सीन पॉलिसी पर फिर से विचार करने के लिए कहा. 9 मई को ही भारत ने एक महीने पहले के मुकाबले सिर्फ आधे लोगों को ही वैक्सीन दी. 5 अप्रैल को भारत ने एक दिन में 43 लाख लोगों को वैक्सीन दी थी. वहीं 9 मई को करीब 20 लाख लोगों को कोरोना वैक्सीन का डोज दिया गया. 9 मई को ही क्या फॉरेक्स आपको अमीर बना सकता है दिल्ली सरकार ने कहा कि उनके पास अब सिर्फ 3-4 दिन के लिए ही वैक्सीन स्टॉक बचा है.

अमीर देशों ने अपनी आबादी से 2-3 गुना वैक्सीन स्टॉक की थी

जनवरी 2021 में जब दुनिया के कुछ अमीर देशों ने अपनी आबादी से दो-तीन गुना वैक्सीन के डोज बुक कर लिए. भारत ने अपनी 140 करोड़ की आबादी के लिए सिर्फ और सिर्फ 1.5 करोड़ वैक्सीन डोज का ऑर्डर दिया.

1 मई से जब हमने अपनी 18-44 साल वाली 59 करोड़ आबादी के लिए वैक्सीनेशन प्रोग्राम शुरू किया, तब हमने करीब 21 करोड़ डोज का ऑर्डर सीरम इंस्टीट्यूट को दिया, 7 करोड़ डोज का ऑर्डर भारत बायोटेक को दिया. इन ऑर्डर्स से ज्यादा से ज्यादा 14 करोड़ लोगों को कोरोना वैक्सीन दी जा सकेगी. वो भी तब जब वैक्सीन वेस्टेज को हटा दिया जाए.

इसमें से सीरम को 11 करोड़ और भारत बायोटेक को 5 करोड़ डोज का ऑर्डर 28 अप्रैल को दिया गया. कंपनियां ये ऑर्डर कम से कम 2-3 महीने में डिलेवर करेंगी.

वैक्सीन नीति में खामियां

अब इसके बाद भारत सरकार अपनी दोहरी कीमत और खरीद नीति (Dual pricing and procurement policy) के तहत मैन्युफेक्चरर से उपलब्ध वैक्सीन के 50% डोज खरीदेगी, बची हुए वैक्सीन डोज को देश के सारे राज्यों और बड़े कॉरपोरेट हॉस्पिटल्स के बीच बांटा जाएगा.

इसी क्या फॉरेक्स आपको अमीर बना सकता है की वजह से अब तक भारत में सिर्फ और सिर्फ 2% आबादी को कोरोना केदोनों टीके दिए जा सके हैं और 11% आबादी ने वैक्सीन का एक शॉट लिया है. याद रखना चाहिए कि भारत के वैक्सीनेशन अभियान को शुरू होकर करीब 5 महीने हो गए हैं. और हमारे फास्टेस्ट फिंगर फर्स्ट खेल का रोमांच भी बढ़ता ही चला जा रहा है.

अब 12-15 साल के बच्चों को लग सकेगी Pfizer वैक्सीन,US FDA की मंजूरी

अब 12-15 साल के बच्चों को लग सकेगी Pfizer वैक्सीन,US FDA की मंजूरी

क्या हमारे पास दूसरे विकल्प थे?

अर्थशास्त्री बताते हैं कि भारत के पास भरपूर फॉरेक्स रिजर्व हैं. इंडिया रेटिंग की रिसर्च के मुताबिक सरकार जीडीपी का सिर्फ 0.36% लगाकर ही अपनी 18 साल से ऊपर की आबादी को वैक्सीन लगा सकती है.

एक ही कंपनी की वैक्सीन के लिए अलग-अलग दाम होने की सरकारी नीति की वजह से सप्लाई में दिक्कतें आ रही हैं. साथ ही वैक्सीन बनाने वाली कंपनियों पर छोड़ दिया गया है कि वो अपनी प्राथमिकता अपने हिसाब से तय करें.

भारत सरकार ने बजट में 35 हजार करोड़ रुपये के वैक्सीन फंड का ऐलान किया था, सरकार उस फंड का इस्तेमाल करके देश की करीब 100 करोड़ की आबादी को वैक्सीन दे सकती थी.

सरकार की 'आत्मनिर्भरता' पर चोट नहीं पहुंचती अगर वो अपने कैश रिजर्व का इस्तेमाल करते हुए वैक्सीन के बड़े ऑर्डर दे देती. ऐसा हुआ होता तो आज ये दिक्कत पेश नहीं आती.

कोवैक्सीन को इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च और नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी ने मिलकर बनाया है. इसलिए इसका लाइसेंस देश के दूसरे वैक्सीन मैन्युफेक्चरर्स को भी दिया जाना चाहिए था, ताकि देश में तेजी से वैक्सीन तैयार हों. विडम्बना तो ये है कि भारत खुद इस तरह की नीति का विश्व व्यापार संगठन में समर्थन करता है.

भारत वैक्सीन निर्माताओं को छुट-पुट ऑर्डर देने की बजाए, ठोस मात्रा में ऑर्डर दे सकता था. भारत वैक्सीन के रिसर्च और संसाधनों पर पहले से भारी भरकम खर्च कर सकता था. भारत अपने वैक्सीन मैन्युफैक्चरिंग कैपेसिटी को बढ़ाने पर काम कर सकता था.

भारत अपने पूर्व के वैक्सीनेशन अभियान जैसे पोलियो वगैरह के अनुभवों का इस्तेमाल कर सकता था.

भारत कोरोना वायरस महामारी के नियंत्रण और वैक्सीन पॉलिसी के लिए अपने पब्लिक हेल्थ एक्सपर्ट के टैलेंट का इस्तेमाल कर सकता था.

कोरोना महामारी के बीच ऑक्सीजन-वैक्सीन पर दिल्ली सरकार Vs बीजेपी

कोरोना महामारी के बीच ऑक्सीजन-वैक्सीन पर दिल्ली सरकार Vs बीजेपी

(हैलो दोस्तों! हमारे Telegram चैनल से जुड़े रहिए यहां)

रेटिंग: 4.16
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 278
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *